Bihar News

Super 30: ऋतिक रोशन से मिलकर काफी गदगद हैं सुशील मोदी, आनंद भी रहे मौजूद

Dainik Jagran - 1 hour 47 min ago

पटना, जेएनएन। फिल्‍म सुपर 30 की बिहार में धूम मची है। फिल्‍म की कमाई मंगलवार को 50 करोड़ से पार कर गई है। खास बात कि बिहार में फिल्‍म सुपर 30 को टैक्‍स फ्री कर दिया गया है। इतना ही नहीं, सुपर 30 के संचालक गणितज्ञ आनंद कुमार को सम्‍मानित करने के लिए बॉलीवुड एक्‍टर ऋतिक रोशन पटना पहुंचे, तो उनसे मिलने बिहार के उपमुख्‍यमंत्री सुशील कुमार मोदी होटल पहुंचे। ऋतिक रोशन से मिलकर सुशील मोदी काफी खुश दिखे। मौके पर गणितज्ञ आनंद कुमार भी मौजूद रहे। खास बात कि सुशील मोदी ने यह फिल्‍म पहले ही दिन देख ली थी। 

मुलाकात के दौरान नेता व अभिनेता, दोनों काफी खुश थे। सुशील मोदी ने ऋतिक का गर्मजोशी के साथ स्वागत किया।  बता दें कि पटना के गणितज्ञ आनंद कुमार (Anand Kumar) के जीवन संघर्ष पर बनी फिल्म 'सुपर 30' (Super 30) 12 जुलाई को बिहार के साथ ही पूरे देश में रिलीज हुई। इस फिल्‍म ने सोमवार को ही महज चार दिनों में 45 करोड़ की कमाई कर ली थी। सूत्रों की मानें तो मंगलवार को इसकी कमाई 50 करोड़ पार कर गयी है। 

इसे भी पढ़ें: Guru Purnima: टैक्‍स फ्री हुई सुपर 30, आनंद से मिलने पहुंचे रितिक को देखने बेताब रहे पटनाइट्स

फिल्‍म की मांग को देखते हुए गुरु पूर्णिमा (Guru Purnima) के दिन से इस फिल्‍म को नीतीश सरकार ने बिहार में टैक्‍स फ्री कर दिया। इसके लिए ऋतिक रोशन ने ट्वीट कर मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार को बधाई भी दी। वहीं आनंद ने भी मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) व उपमुख्‍यमंत्री सुशील मोदी (Sushil Modi) के प्रति आभार प्रकट किया। गुरु पूर्णिमा के दिन ही फिल्‍म में आनंद का किरदार निभाने वाले अभिनेता ऋतिक रोशन (Hrithik Roshan) अपने रियल लाइफ किरदार से मिलने पटना पहुंचे। इसी दौरान पटना के एक होटल में ठहरे ऋतिक से मिलने सुशील मोदी पहुंचे। 

इसे भी पढ़ें: Super 30 रिलीज: पर्दे पर जब आनंद कुमार को लगी गोली तो फूट-फूट कर रोईं मां...

गौरतलब है कि आनंद कुमार पटना में गरीब बच्‍चों की मेधा तराश कर उन्‍हें आइआइटी (IIT) में प्रवेश दिलाने की मुहिम चला रहे हैं। इसके लिए वे 'सुपर 30' नाम से कोचिंग संस्‍थान चलाते हैं। उनके प्रयासों से गरीब रिक्‍शा व चायवालों से लेकर मोची का काम करने व ताड़ी उतारने वालों तक के बच्‍चे आइआइटी में प्रवेश पा चुके हैं। फिल्‍म आनंद के जीवन व उनके इसी कोचिंग संस्‍थान को केंद्र में रखकर बनाई गई है। 

इधर फिल्‍म 'सुपर 30' के नायक ऋतिक रोशन गुरु पूर्णिमा के दिन मंगलवार की दोपहर पटना पहुंचे। पटना में उस कोचिंग संस्‍थान 'सुपर 30' के संस्थापक आनंद कुमार का घर भी है, जिसे केंद्र में रखकर फिल्‍म बनाई गई है। इस तरह रील लाइफ के गुरु आनंद गुरु पूर्णिमा के दिन रियल लाइफ आनंद की कर्मभूमि में रहे। गुरु पूर्णिमा के दिन रील व रियल लाइफ इन दोनों गुरुओं की मुलाकात हुई। इस दौरान रितिक की एक झलक पाने के लिए प्रशंसक बेताब रहे।

खास बात यह भी है कि यह फिल्‍म गुरु पूर्णिमा के दिन से बिहार में टैक्‍स फ्री कर दी गई है। इस संबंध में उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने बताया कि बिहार सरकार ने इस फिल्‍म को टैक्‍स फ्री करने का निर्णय किया है। यह निर्णय 16 जुलाई, 2019 से पूरे बिहार में लागू हो गया है।

फिल्‍म 'सुपर 30' रिलीज के साथ ही बॉक्स ऑफिस पर धूम मचा रही है। फिल्‍म अभी तक 50 करोड़ रुपये से अधिक का कारोबार कर चुकी है। आनंद कुमार का किरदार निभा रहे रितिक फिल्म को लेकर काफी उत्साहित हैं। विकास बहल के डायरेक्शन में बनी फिल्म में रितिक के साथ पंकज त्रिपाठी, मृणाल ठाकुर, आदित्य श्रीवास्तव, नंदिश सिंह अमित साध अभिनय करते दिखेंगे। फि़ल्म में पटना की संस्‍था 'किलकारी' के 25 बच्चों के साथ आनंद कुमार की कोचिंग के कुछ छात्रों ने भी अहम रोल निभाया है।

Categories: Bihar News

Top Patna News Of The Day 16 July 2019, पटना में 18.41 लाख रुपये के सिक्के लूटे, संदिग्ध परिस्थितियों में विवाहिता ने लगाई फांसी, बाकरगंज में सड़क को ले बवाल

Dainik Jagran - 3 hours 19 min ago

Top Patna News, 16 July Patna News, Top Patna News of the day, पटना की प्रमुख खबरें, पटना की टॉप खबरें।

पटना में 18.41 लाख रुपये की लूट

पटना, जेएनएन। पटना, जेएनएन। पटना में अपराधियों ने एक बार फिर पुलिस को चुनौती दी है। इस बार कैश नहीं सिक्कों पर हाथ साफ किया है। घटना मंगलवार की सुबह तीन बजे की है। नौबतपुर के गवाए मोड़ के पास वारदात को अंजाम दिया गया है। पिकअप वैन लूटते हुए 18.41 लाख लेकर अपराधी फरार हो गए हैं। सूचना पर जांच के लिए पुलिस पहुंच गई है।

विवाहिता ने लगाई फांसी

पटना, जेएनएन। राजधानी में सोमवार की देर रात एक विवाहिता ससुराल में फंदे से लटकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। ससुराल वाले शव का दाह संस्कार करने जा ही रहे थे कि मायके वाले पहुंच गए और हत्या कर शव फांसी पर लटकाने का आरोप लगा हंगामा करने लगे। आलमगंज पुलिस चौकी के समीप सड़क जाम कर स्थानीय लोगों ने प्रदर्शन किया। इस दौरान करीब तीन घंटे तक आवागमन बाधित रहा।

बाकरगंज में सड़क को ले बवाल

पटना, जेएनएन। पटना के पीरबहोर थाना क्षेत्र के बाकरगंज मोहल्ले में मंगलवार को लोगों का आक्रोश फूट पड़ा। सड़क निर्माण में लापरवाही बरतने को लेकर लोग सड़क पर आ गए। इस दौरान रास्ता रोककर प्रदर्शन किया गया। लोगों ने बाकरगंज से नाला रोड जाने वाली सड़क को जाम कर दिया। इसके कारण आवागमन पूरी तरह बंद हो गया है। काफी देर बाद परिचालन सुचारू हो सका।

Categories: Bihar News

JDU नेता के फिर बिगड़े बोल, कहा-चुनाव के बाद बिहार में कुछ भी अच्छा नहीं हो रहा

Dainik Jagran - 3 hours 29 min ago

पटना, जेएनएन। बिहार में बीजेपी-जेडीयू के बीच अंदरुनी खींचतान को लेकर जदयू नेता अजय आलोक विवादास्पद बयान देते रहते हैं। एक बार फिर से अजय आलोक ने ट्वीट कर विवाद को बढ़ावा दिया है। अजय आलोक ने अपने ट्वीट में लिखा है कि  राजनीतिक दृष्टिकोण से देखा जाए तो लोक सभा परिणाम के बाद बिहार में कुछ अच्छा नहीं हो रहा है।

 राजनीतिक दृष्टिकोण से देखा जाए तो लोक सभा परिणाम के बाद बिहार में कुछ अच्छा नहीं हो रहा 1.सांकेतिक भागीदारी वो भी नामंज़ूर 2.चमकी का रूद्र रूप 3.सूखे की आशंका 4.अब बाढ़ का प्रकोप ।इस कठिन परिस्तिथि में सब एकजुट हो जाए बिहार हित में राजनीति बाद में भी हो सकती हैं । मदद करे सब

— Dr Ajay Alok (@alok_ajay) July 16, 2019

इसके साथ ही अजय आलोक ने नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव औऱ राबड़ी देवी पर तंज कसते हुए लिखा कि दिल्ली में आराम फ़रमा रहे नेता प्रतिपक्ष अब बाढ़ पे ज्ञान दे रहे हैं और उनकी माँ मुख्यमंत्री के हवाई दौरे पे सवाल उठा रही हैं कहती हैं कार से दौरा कीजिए।

दिल्ली में आराम फ़रमा रहे नेता प्रतिपक्ष अब बाढ़ पे ज्ञान दे रहे हैं और उनकी माँ मुख्यमंत्री के हवाई दौरे पे सवाल उठा रही हैं कहती हैं कार से दौरा कीजिए । अरे अपने 15 साल में कभी आपदा प्रबंधन का आपने नाम तक नहीं सुना तो अब ज्ञान नहीं सहयोग दीजिए ।अपने विधायकों को कहिए सहयोग करे

— Dr Ajay Alok (@alok_ajay) July 16, 2019

बता दें कि अजय आलोक ने अपने कल के ट्वीट में लिखा था कि  सारे बिहार के सांसद लोक सभा या राज्य सभा सब मिल के नरेंद्र जी के पास जाएं और नेपाल पे हाई डैम की स्वीकृति ले। आज की तारीख़ में ये कार्य सिर्फ़ PM ही कर  सकते हैं। बिहार के लिए इससे ज़रूरी कुछ नहीं हैं। अगर MP लोग इतना भी नहीं कर सकते तो इस्तीफ़ा दे सब के सब..

 इससे पहले अजय आलोक ने पीएम मोदी और सीएम नीतीश की तुलना कर ये लिखा था और सीएम पर भरोसा जताया था।

जब @narendramodi जी गुजरात के कच्छ में 400 km की पाइप लाइन बिछा कर नर्मदा का पानी पहुँचा सकते हैं तो बिहार में 15 जिलो में कैनाल और नहरों का चैनल बनवाना @NitishKumar जी के लिए कौन सी खेत की मूली हैं ? भरोसा हैं नीतीश जी पर ये भी होगा

— Dr Ajay Alok (@alok_ajay) July 12, 2019

ममता बनर्जी पर किया था ट्वीट

बता दें कि अजय आलोक ने बीते जून महीने में पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी को निशाने पर लेते हुए लिखा था कि वह बंगाल को मिनी पाकिस्तान बना रही हैं। ममता को वहां मिनी पाकिस्‍तान बनने रोकना चाहिए। वहां से बिहारियों को भगाया जा रहा है। लगातार हत्‍याओं का दौर भी चल रहा है।

प्रवक्ता पद से दिया था इस्तीफा

उनके इस ट्वीट पर जदयू नेतृत्व ने नाराजगी जतायी थी जिसके बाद आलोक ने प्रवक्ता के पद से इस्तीफा दे दिया था। इसके बाद से अजय आलोक लगातार कुछ न कुछ मुद्दों को लेकर अपनी ही पार्टी जेडीयू पर तंज कसने पर बाज नहीं आ रहे हैं। 

 

Categories: Bihar News

पटना में विवाहिता की फंदे से लटकी मिली लाश, शव जलाने से पहले पहुंचे परिजनों ने किया बवाल Patna News

Dainik Jagran - 3 hours 39 min ago

पटना, जेएनएन। राजधानी में सोमवार की देर रात एक विवाहिता ससुराल में फंदे से लटकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। ससुराल वाले शव का दाह संस्कार करने जा ही रहे थे कि मायके वाले पहुंच गए और हत्या कर शव फांसी पर लटकाने का आरोप लगा हंगामा करने लगे। आलमगंज पुलिस चौकी के समीप सड़क जाम कर स्थानीय लोगों ने प्रदर्शन किया। इस दौरान करीब तीन घंटे तक आवागमन बाधित रहा।

मिली जानकारी के मुताबिक सोनी कुमारी (22) की 2014 में दीदारगंज थाना अंतर्गत मोहम्मदपुर सुनावा बांध निवासी तनीष से शादी हुई थी। तनीष एक प्राइवेट स्कूल में पढ़ाता था। लड़की के पिता ने आरोप लगाया है कि कुछ दिनों से वर पक्ष लड़के के लिए कोचिंग खोलने के नाम पर 2.50 लाख कैश और बाइक की मांग कर रहा था। इसी को लेकर घर में आए दिन झगड़ा होता रहता था।

सोमवार को सोनी को जहर देकर मार दिया गया। हत्या को घटना का रूप देने के लिए उसका शव फांसी के फंदे से लटका दिया गया। सुबह ससुराल वाले शव का दाह संस्कार कराने की सोच रहे थे कि पड़ोसियों ने मायके वालों को खबर कर दी। जिसपर मायके वालों ने आलमगंज पुलिस चौकी के समीप सड़क जाम कर घंटों प्रदर्शन किया।

Categories: Bihar News

बिहार में बाढ से मची हाहाकार पर सीएम नीतीश ने सदन में दिया जवाब, हम ALERT हैं

Dainik Jagran - 4 hours 48 min ago

पटना, जेएनएन। बिहार में आई बाढ़ से मचे हाहाकार के बीच मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आज सदन में सरकार की तरफ से जवाब दिया। सीएम ने बताया कि बिहार में अब तक बाढ़ के कारण 25 लोगों की मौत हो गई है। बाढ़ पीड़ितों के लिए राहत कार्य चलाया जा रहा है। हम हर स्थिति से निपटने के लिए तैयार हैं। इस आपदा की घड़ी में सबको साथ मिलकर पीड़ितों को राहत पहुंचाने की जरूरत है।

सीएम ने बाढ़ की ताजा स्थिति से सदन को अवगत कराते हुए कहा कि 12 जिलों के 78 ब्लॉक के कुल 555 पंचायत के 25.71 लाख लोग बाढ़ से प्रभावित हैं। बाढ़ पीड़ितों के लिए 199 राहत शिविर चलाए जा रहे हैं जिनमें 1.16 लाख लोग रह रहे हैं। जरूरत पड़ने पर और भी राहत शिविर खोले जाएंगे। इनके लिए 676 सामुदायिक रसोई चल रही है।

उन्होंने कहा बाढ़ से पीड़ित हर परिवार को छह हजार रुपये की राशि दी जाएगी, जो डीबीटी के माध्यम से सीधे उनके बैंक के खाते में चली जाएगी। राहत, बचाव कार्य को लेकर अधिकारियों को विशेष निर्देश दिए गए हैं। सीएम ने बताया कि 125 मोटरबोट के साथ एनडीआरएफ और एसडीआरएफ की 25 टीमें लगातार बचाव का काम कर रही हैं।

सीएम ने बताया कि पथ निर्माण विभाग को सड़कों की मरम्मत का निर्देश दिया गया है। बाढ़ का पानी कम होने पर जल्द सड़क बनाने का निर्देश दिया गया है। कोसी नदी में 15 साल का सबसे ज्यादा जलस्तर देखा गया है। सीएम ने कहा कि बाढ़ के साथ ही सुखाड़ को लेकर भी सरकार अलर्ट है। बाढ प्रभावित जिलों का मैंने खुद दो दिन हवाई सर्वेक्षण किया है। 

Categories: Bihar News

पटना में 18.41 लाख की लूट, कार सवार बदमाश सिक्कों से भरी पिकअप वैन लेकर फरार Patna News

Dainik Jagran - 6 hours 59 min ago

पटना, जेएनएन। पटना में अपराधियों ने एक बार फिर पुलिस को चुनौती दी है। इस बार कैश नहीं सिक्कों पर हाथ साफ किया है। घटना मंगलवार की सुबह तीन बजे की है। नौबतपुर के गवाए मोड़ के पास वारदात को अंजाम दिया गया है। सूचना पर जांच को पुलिस पहुंच गई है।

मिली जानकारी के मुताबिक रेडिएंट कैश मैनेजमेंट कंपनी के कर्मी किराए पर पिकअप लेकर पटना के शगुना मोड़ से रांची जा रहे थे। रिस्क मैनेजर ने बताया कि लोगों से एक-एक रुपये के सिक्के इकट्ठा कर रांची ले जाया जा रहा था। जैसे ही गाड़ी नौबतपुर के गवाए मोड़ के पास पहुंची कि दो कारों से छह कि संख्या में आए अपराधियों ने पिकअप वैन ओवरटेक कर ली।

इसके बाद हथियार दिखाकर हमें नीचे उतार दिया। इसके पहले हम कुछ समझ पाते कार से कुछ लोग उतरे और पिकअप लेकर फरार हो गए। रात होने के कारण हम उनकी कार का नंबर नहीं देख पाए। घटना के बाद पुलिस को सूचना दे दी गई है। घटना स्थल के पास लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज खंगाल कर जांच की जा रही है।

Categories: Bihar News

बारिश के बाद शहर का हाल बेहाल, बाकरगंज में रास्ता रोककर लोग कर रहे प्रदर्शन Patna News

Dainik Jagran - 8 hours 2 min ago

पटना, जेएनएन। पटना के पीरबहोर थाना क्षेत्र के बाकरगंज मोहल्ले में मंगलवार को लोगों का आक्रोश फूट पड़ा है। सड़क निर्माण में लापरवाही बरतने को लेकर लोग सड़क पर आ गए हैं। रास्ता रोककर प्रदर्शन किया जा रहा है। लोगों ने बाकरगंज से नाला रोड जाने वाली सड़क को जाम कर दिया है। इसके कारण आवागमन पूरी तरह बंद हो गया है।

स्थानीय लोगों का कहना है कि यहां कई दिनों से सड़क मरम्मत के नाम पर रास्ते में गड्ढ़े कर दिए गए हैं। जिसके कारण लोगों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। स्थानीय लोगों का कहना है कि पिछले 20 दिनों से परेशानी है। हंगामा कर रहे लोगों का कहना था कि पिछले एक महीने से यहां सड़क मरम्मती के नाम पर मनमानी हो रही है। पूरे सड़क को खोद डाला गया है। काम काफी धीमी गति से हो रहा है। जिसकी वजह से यहां आने जाने में काफी परेशानी हो रही है।

Categories: Bihar News

बिहार में बाढ़: कोसी-कमला सहित कई नदियों ने धरा विकराल रूप, अबतक 46 की मौत

Dainik Jagran - 8 hours 23 min ago

पटना, जेएनएन। बिहार में बाढ़ का कहर लगातार जारी है, इसकी वजह से अब तक बिहार में 46 लोगों की मौत की खबर है। सोमवार की शाम तक बाढ़ से हुई मौत का आंकड़ा 35 था जो मंगलवार की सुबह तक बढ़कर 46 तक जा पहुंचा है। बता दें कि बिहार के 12 जिले बाढ़ से प्रभावित हैं जबकि 19 लाख से ज्यादा लोग इसकी वजह से घर छोड़कर जहां-तहां शरण लिए हुए हैं। 

समस्तीपुर में उफनाई कोसी-कमला नदी

आज जहां समस्तीपुर के रोसड़ा में कोसी कमला के जलस्तर में बढ़ोतरी दर्ज की गई है तो वहीं जिले के बिथान थाना के चार पंचायत जलमग्न हो गए हैं। रोसड़ा प्रखंड का मुख्यालय से गांवों का संपर्क कट गया है। वहीं फाटक गिराने से भिखनौलिया सुइस गेट टूट गया है। पिछले 24 घंटे में नदी का जलस्तर 3 फीट बढ़ा है और लोग नाव के सहारे आवागमन कर रहे हैं।

मधुबनी में टूटा बांध, कई गांव जलमग्न

मधुबनी में महाराजी बांध कई जगहों से टूट गया है जिससे पश्चिमी क्षेत्रों के दर्जनों गांव जलमग्न हो गए हैं। कई गांवों का मुख्य सड़क से सम्पर्क कट गया है।बेनीपट्टी अनुमंडल में बना है महाराजी बांध, जो टूट गया है।जिले के गेहूंआ नदी के बाढ़ के पानी में किशोर की डूबने से मौत की खबर है। 

मोतिहारी में बाढ़ के पानी में डूबे दो बच्चों का शव बरामद

वहीं, मोतिहारी में कल पानी में डूबे बच्चों का शव मिल गया है। 20 घंटे पहले बाढ़ के पानी में बच्चे डूबे थे और उनके शवों की तलाश की जा रही थी। एक बच्चा और एक बच्ची का शव बरामद हुआ है। ग्रामीणों के सहयोग से दोनों का शव निकाला गया। जिले के कुण्डवा चैनपुर थाना के भवानीपुर गांव की घटना है। 

 

दरभंगा-सीतामढ़ी को जोड़ने वाला पुल बहा 

दरभंगा में नदी में आई  बाढ़ की तेज धार ने लोगों की आखों के सामने ही सड़क पर बने पुल के एक हिस्से को बहा दिया। दरभंगा से जाले होते हुए सीतामढ़ी को जोड़नेवाली बाइपास सड़क पर बने इस पुल के बह जाने से प्रखंड मुख्यालय और NH-57 से कई गांवों का संपर्क टूट गया है। जिस समय पुल टूटा उस समय लोग पुल पर ही जमा थे और पुल टूटने की घटना को अपने मोबाइल में कैद कर रहे थे। 

 दरभंगा - सीतामढ़ी के बीच रेल परिचालन प्रभावित 

पूर्व मध्य रेल, हाजीपुर के मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी राजेश कुमार ने बताया कि समस्तीपुर रेल मंडल के दरभंगा - सीतामढ़ी रेल खंड पर आज मध्य रात्रि  01:50 बजे सूचना मिली कि कमतौल - जोगियारा के बीच बाढ़ का पानी रेल पुल संख्या 18 के ख़तरे के निशान को पार कर गया है। रेल संरक्षा को ध्यान में रखते हुए तत्काल रेल परिचालन रोक दिया गया है। जलस्तर की निगरानी की जा रही है। 

बाढ़ से 46 से ज्यादा लोगों की मौत

बिहार में बाढ़ से हुई मौत के आंकड़ों की बात करें तो मोतिहारी में अबतक 19 लोगों की मौत हुई है जबकि अररिया में बाढ़ से अबतक 11 लोगों की जान जा चुकी है।

सीतामढ़ी में बाढ़ से 11 लोगों की जान गई है वहीं किशनगंज में बाढ़ से होने वाली मौत का आंकड़ा अबतक 4 है। दरभंगा, शिवहर में बाढ़ से अब तक एक-एक लोगों की जान गई है। वहीं, सरकारी आंकड़ों की बात करें तो बिहार सरकार के आपदा प्रबंधन विभाग ने अबतक 24 लोगों के मौत की ही पुष्टि की है।

ये जिले हैं बाढ़ से प्रभावित 

अररिया जिला सबसे अधिक प्रभावित है और इसके बाद किशनगंज, पूर्णिया और कटिहार जिलों की हालत बाढ़ से खराब बनी हुई है। पूर्णिया प्रमंडल के जिलों में महानंदा और उसकी सहायक नदियां कनकई, परमान और मेची बहती हैं। साथ ही सौरा और कोसी नामधारी कई छोटी नदियां भी बरसात के दिनों में रौद्ररूप ले लेती हैं।

अररिया से लेकर किशनगंज के बीच एनएच 57 और एनएच 31 फिलहाल कई तरह से लाइफलाइन बना हुआ है। 

 

Categories: Bihar News

विमान में बैठा यात्री चिल्‍लाया- इससे नहीं जाना, टेक-ऑफ के ठीक पहले उतारा गया नीचे

Dainik Jagran - 8 hours 41 min ago

पटना [जेएनएन]। विमान उड़ान भरने ही वाला था कि एक यात्री नीचे उतरने के लिए चिल्‍लाने लगा। वह यात्रा नहीं करने पर अड़ गया। इसके बाद कड़ी सुरक्षा के बीच उसे नीचे उतारा गया। घटना दिल्‍ली एयरपोर्ट पर स्पाइसजेट की पटना की एक फ्लाइट में हुई।

टूटा मिला विमान की खिड़की का ग्‍लास

मिली जानकारी के अनुसार स्‍पाइसजेट की फ्लाइट एसजी 8480 बीती रात दिल्ली से पटना के लिए उड़ान भरने ही वाला था कि विमान में बैठे एक यात्री ने खिड़की का ग्लास टूटा होने की शिकायत की। वह इस कारण विमान को री-शिड्यूल कराने की जिद करने लगा। क्रूू मेंबर्स ने इसकी जानकारी ग्राउंड स्‍टाफ की दी।

तकनीकी विशेषज्ञों ने कहा: खतरे की बात नहीं

ग्राउंड स्टाफ और तकनीकी विशेषज्ञ विमान में बुलाए गए। उन्‍होंने खिड़की की जांच की तो इसके भीतरी ग्लास में हल्की दरार मिली। तकनीकी विशेषज्ञों ने यात्री को समझाया कि खिड़की के भीतरी ग्लास के बाहर मुख्य ग्लास ठीक है, इसलिए खतरे की कोई बात नहीं।

अंतिम समय में नीचे उतारा गया यात्री

इसके बाद विमान टेक-ऑफ के लिए तैयार हो गया। लेकिन यात्री अपनी बात पर अड़ा रहा। उनसे टूटे ग्लास वाले विमान में यात्रा करने से साफ इनकार कर दिया। इसके बाद उसे कड़ी सुरक्षा में नीचे उतार दिया गया। इस प्रक्रिया में विमान 45 मिनट विलंब से रात 8:55 बजे पटना के लिए उड़ान भर सका।

Categories: Bihar News

थानों में अब होंगे दो अपर एसएचओ, लेखक व मालखाना प्रभारी

Dainik Jagran - 13 hours 8 min ago

पटना। राज्य पुलिस मुख्यालय के निर्देश पर थानों में कॉरपोरेट कल्चर विकसित कराने के लिए चार नए पदों का सृजन किया गया है। अब थानों में विधि-व्यवस्था संधारण और कांडों की जांच के लिए अलग-अलग अपर एसएचओ (स्टेशन हाउस ऑफिसर), थाना लेखक और मालखाना प्रभारी का पद होगा। सभी अपने कार्यो के लिए जिम्मेवार होंगे। इनके ऊपर एसएचओ यानी थानाध्यक्ष रहेंगे, जिनका काम प्राथमिकी को रजिस्टर्ड करने के साथ सभी पुलिसकर्मियों की कार्यशैली पर नजर रखना होगा। एसएसपी गरिमा मलिक ने बताया कि नई व्यवस्था के अनुपालन का काम शुरू कर दिया गया है। 15 अगस्त पर यह व्यवस्था सभी थानों में लागू हो जाएगी।

वर्तमान में थानों में लागू है ऐसी व्यवस्था

वर्तमान व्यवस्था के तहत अब तक सभी जवाबदेही थानाध्यक्ष की होती रही है। उसके अलावा थाने में प्रतिनियुक्त वरिष्ठ दारोगा को अपर थानाध्यक्ष बना दिया जाता है। थानाध्यक्ष अपनी मर्जी से जिसे चाहते हैं, उसे कांड का जांचकर्ता बना देते और गश्ती की ड्यूटी लगाते हैं। थाने में प्रतिनियुक्त किसी पदाधिकारी को मालखाने का प्रभार दे दिया जाता है। इसकी वजह से घटना के बाद जांच पूरी नहीं हो पाती। पीड़ित भटकता रहता है। गौरतलब है कि मालखाना व्यवस्थित नहीं रहने के कारण आज तक उसका ऑडिट नहीं हो सका।

दो माह से लंबित मामलों में आई कमी

एसएसपी ने बताया कि लोकसभा चुनाव के अंत तक जिले में लगभग 25 हजार विशेष और गैर विशेष प्रतिवेदित कांड लंबित थे। जांचकर्ताओं और पर्यवेक्षण पदाधिकारियों को टारगेट दिया गया था कि जिस स्तर पर कांड लंबित हैं, उसे पूरा किया जाए। युद्धस्तर पर अभियान चलाकर दो माह (मई व जून) में काफी हद तक लंबित कांडों का निस्तारण किया गया है। लंबित कांडों का वास्तिवक आंकड़ा जल्द अद्यतन कर दिया जाएगा।

इस तरह काम करेगी नई व्यवस्था

: - अपर एसएचओ (विधि-व्यवस्था) : - थाने के क्षेत्रफल के अनुसार इनके अधीन 25 से 50 पदाधिकारी और जवान रहेंगे, जिनका काम धरना, सभा और गश्ती पर ध्यान देना होगा। वे धरना, सभा आदि की रिकॉर्ड रखेंगे। कौन-सी सभा किस रास्ते से निकली, कौन-सी सभा, धरना और मोर्चा हिसक रहा, जैसी सूचनाएं कलमबद्ध करेंगे। इनका काम विधि-व्यवस्था को बनाए रखना होगा।

: - अपर एसएचओ (जांच) : - विधि-व्यवस्था कार्य से बचे थाने में प्रतिनियुक्त पदाधिकारियों और जवानों को जांच कार्य में लगाया जाएगा। पदाधिकारियों को कांड का जांचकर्ता बनाया जाएगा और जवानों को जांच कार्यो जैसे आसूचना व साक्ष्य संकलन आदि के लिए भेजा जाएगा। उन्हें पेशेवर बदमाशों की सूची बनाकर थानाध्यक्षों को भी सौंपना होगा।

: - थाना लेखक : - वरिष्ठ साक्षर सिपाही या एएसआइ संवर्ग के पुलिसकर्मी को थाना लेखक बनाया जाएगा। इनका काम स्टेशन डायरी अप-टू-डेट करने के साथ थाने के सभी कागजी कार्यो को करना होगा। वे वरीय अधिकारियों के कार्यालयों से आने वाले पत्रों को रिसीव करेंगे और उन्हें थानाध्यक्ष के समक्ष प्रस्तुत करेंगे। गश्ती में कौन-सी गाड़ी और किस पदाधिकारी व जवान को लगाया जाएगा, इसका पूरा रिकॉर्ड रखेंगे।

: - मालखाना प्रभारी : - थाने के एक पदाधिकारी को मालखाने का जिम्मा सौंपा जाएगा। मालखाना प्रभारी का काम प्रतिदिन जब्ती सूची के अनुसार मालखाने में जमा करना और कोर्ट के आदेश पर चीजों को सौंपने का काम करेंगे। मालखाना पूरी तरह अप-टू-डेट होगा, ताकि उनके स्थानांतरण के बाद जब कोई दूसरा प्रभारी आए तो उसे कोई कठिनाई ना हो और सामान भी सुरक्षित रहे।

Categories: Bihar News

रूपक के बड़े भाई ने प्रेमिका को ठहराया मौत का जिम्मेदार, दर्ज कराया केस

Dainik Jagran - 17 hours 42 min ago

पटना। बुद्धा कॉलोनी थाना क्षेत्र के श्रीकृष्णा नगर रोड नंबर-आठ में रविवार को सैप जवान के बेटे रूपक के खुदकशी मामले में सोमवार को उसके बड़े भाई दीपक ने थाने में केस दर्ज कराया है। आरोप है कि लड़की की प्रताड़ना से आजिज आकर उसने सुसाइड कर लिया। उधर, सोमवार को पुलिस ने लड़की और उसकी मां को थाने लाकर पूछताछ की। लड़की ने बताया कि पिछले कुछ दिनों से उसकी रूपक से बात नहीं हुई थी। रविवार को रूपक उसके घर के पास आया जरूर था, लेकिन उसने पिता के होने के कारण मिलने से मना कर दिया था।

कार के पास भीड़ देख प्रेमिका ने ही किया था फोन

सूत्रों की मानें तो दीपक के केस दर्ज कराने के बाद पुलिस ने रूपक की प्रेमिका व उसकी मां की पहचान कर दोनों को हिरासत में ले पूछताछ शुरू कर दी है। करीब तीन घंटे तक प्रेमिका से पूछताछ हुई है। इस दौरान उसने बताया कि दोनों के बीच काफी दिनों से बातचीत बंद थी। रविवार की सुबह उसने फोन किया था। फोन पर उसके मिलने से मना करने पर रूपक घर के बाहर तक पहुंच गया। तब उसने फोन के जरिए बहाना बनाते हुए घर में पापा के होने की बात कह मिलने से मना कर दिया था। इसके बाद रूपक पार्क के पास कार लेकर चला गया। कुछ देर बाद प्रेमिका भी बोरिग रोड पर कोचिंग के लिए निकली। तब उसने देखा कि कार पार्क के पास खड़ी है। करीब डेढ़ घंटे बाद जब वह कोचिंग से लौट कर घर आई, तब देखा कि रूपक की कार तो वहीं है, लेकिन उसके आसपास भीड़ जमा है। इसके बाद उसने अपने मोबाइल से रूपक के दोस्त प्रेम को फोन किया। फोन रिसीव न होने पर उसने अपनी सहेली के मोबाइल से प्रेम को फोन किया। फोन रिसीव होते ही उसने उसे बताया कि रूपक के कार के पास बहुत भीड़ है। इस कारण पुलिस ने उसकी सहेली से भी पूछताछ की। तब सहेली ने कहा कि उसे नहीं पता कि उसके मोबाइल से किसे फोन किया गया? उसने तो बस सहेली की मदद के लिए अपना मोबाइल दे दिया था।

फ सबुक से हुई थी दोस्ती, कई सवालों के जवाब नहीं

रूपक की उक्त लड़की से जान पहचान फेसबुक के जरिए हुई थी। पुलिस की मानें तो लड़की नाबालिग है और 11वीं की छात्रा है। दोनों के बीच कुछ दिनों से रिश्ते अच्छे थे। मोहल्ले के कुछ लड़कों ने पुलिस को बताया कि रूपक अक्सर सुबह व शाम को पार्क के पास कभी कार तो कभी बुलेट से आता था। पुलिस की मानें तो कई सवालों के जवाब लड़की नहीं दे पा रही है। पुलिस अभी लड़की और रूपक के मोबाइल नंबर का सीडीआर निकाल रही है।

लड़की के परिवार वालों को पसंद नहीं था रूपक

पूछताछ में यह बात भी सामने आई है कि दोनों के बीच प्रेम-प्रसंग की जानकारी जब लड़की के घरवालों को हुई तो परिजनों ने रूपक से दूरी बनाने की सलाह दी। इस बीच उसकी किसी और लड़के से दोस्ती हो गई। रूपक को यह बर्दाश्त नहीं हुआ। रविवार को अपनी प्रेमिका से मिलकर यह बात रूपक बताना चाहता था।

कहां से आई पिस्टल, परिजनों से होगी पूछताछ

एसएसपी ने कहा कि रूपक के पास पिस्टल कहां से आई? इसकी जानकारी जुटाई जा रही है। जरूरत पड़ी तो रूपक के दोस्तों और उसके परिजनों से भी पुलिस पूछताछ करेगी। रूपक व उसकी प्रेमिका का फेसबुक अकाउंट और मैसेंजर भी पुलिस खंगाल रही है।

अनसुलझे सवालों के जवाब तलाशने में जुटी पुलिस

पुलिस को मामले में एफएसएल रिपोर्ट का इंतजार है। रूपक के पास अवैध पिस्टल और गोली कहां से आई? आखिर वह कौन-सी बात थी, जिससे परेशान हो उसने गोली मारी? सीसीटीवी कैमरे में कार के पास एक घंटे तक कोई आता-जाता नहीं दिखा, फिर उसके कार का लॉक कैसे टूटा? उसने खुद को गोली से उड़ाया तो शीशे पर बाहर से गोली चलने जैसे निशान कैसे उभरे? ऐसे कई सवालों के जवाब अभी पुलिस को तलाशना शेष है।

कोट-------

पुलिस मामले की गहनता से छानबीन कर रही है। एफएसएल रिपोर्ट मिलने के बाद बहुत कुछ साफ हो जाएगा। मृतक के भाई के बयान पर पुलिस उसकी प्रेमिका से भी पूछताछ कर रही है।

-गरिमा मलिक, एसएसपी

Categories: Bihar News

सिविल कोर्ट की सुरक्षा होगी सख्त, सीसीटीवी की बढ़ेगी संख्या

Dainik Jagran - 17 hours 46 min ago

पटना। पटना सिविल कोर्ट में सुरक्षा व्यवस्था सख्त की जाएगी। सुरक्षा में कोई कोताही नहीं बरती जाएगी। चारदीवारी ऊंची होगी। सीसीटीवी कैमरों की संख्या भी बढ़ाई जाएगी। वाहनों के पार्किग को व्यवस्थित किया जाएगा। जिलाधिकारी कुमार रवि ने सोमवार को जिला एवं सत्र न्यायाधीश रूद्र प्रकाश मिश्रा और वरीय पुलिस अधीक्षक गरिमा मलिक के साथ सिविल कोर्ट की सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लिया।

निरीक्षण के बाद सिविल कोर्ट में बैठक हुई। बैठक में न्यायिक पदाधिकारियों, अधिवक्ताओं एवं मुवक्किलों के प्रवेश एवं निकास में आ रही रही परेशानियों, हाजत की सुरक्षा व्यवस्था, नये भवन में प्रवेश और निकास तथा पार्किग की व्यवस्था पर भी विचार विमर्श किया गया। जिलाधिकारी ने पटना सदर एसडीओ कुमारी अनुपम सिंह एवं पटना सदर पुलिस उपाधीक्षक सुरेश कुमार को निर्देश दिया कि इस संबंध में विस्तृत सर्वेक्षण कर तीन दिनों के अंदर प्रस्ताव समर्पित करें, ताकि संपूर्ण सिविल कोर्ट परिसर की सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित हो सके। बैठक में जिलाधिकारी कुमार रवि के साथ जिला सत्र न्यायाधीश रूद्र प्रकाश मिश्रा, वरीय पुलिस अधीक्षक गरिमा मलिक, रजिस्ट्रार मनीष पांडेय सहित संबंधित पदाधिकारी उपस्थित थे।

जिलाधिकारी ने बताया कि दानापुर कोर्ट में सिपाही की हत्या कर कैदी के भागने की घटना के बाद अनुमंडल स्तरीय न्यायालय की भी सुरक्षा व्यवस्था सख्त कर दी गई है। कमी की जानकारी लेकर उसे पूरा किया जा रहा है।

- - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - - -, - - - - - - - - - -

Categories: Bihar News

नर्सिंग स्कूल में अव्यवस्था देख भड़के सिविल सर्जन

Dainik Jagran - 17 hours 50 min ago

पटना सिटी। श्री गुरु गोविद सिंह सदर अस्पताल परिसर स्थित नर्सिंग स्कूल की खामियां हमेशा से सुर्खियां बनती रही हैं। यहां रहने वाली नर्सिंग छात्राएं घटिया खाना, पेयजल व बिजली संकट, सुरक्षा तथा कई अन्य गड़बड़ियों को लेकर विरोध-प्रदर्शन कई बार कर चुकी हैं। स्कूल व छात्रावास से जुड़ी समस्याओं की खबर एक बार फिर विभाग तक पहुंची। इसकी सत्यता की जांच के लिए सोमवार को सिविल सर्जन डॉ. राजकिशोर चौधरी एवं जिला कार्यक्रम पदाधिकारी डॉ. विवेक कुमार सिंह स्कूल पहुंचे। यहां हर तरफ अव्यवस्था देख यह भड़क गए। इन्होंने प्राचार्य कुमारी मंजू ने जवाब तलब किया। हद तो यह है कि विकास कार्यों के लिए आवंटित 20 लाख रुपये भी यहां खर्च नहीं किया गया है।

सिविल सर्जन ने नर्सिंग स्कूल एवं छात्रावास में उपलब्ध हर एक व्यवस्था को देखा। छात्राओं से पूछताछ किया। परिसर में गंदगी देख कर वह नाराज हुए। उन्होंने उपलब्ध राशि खर्च कर व्यवस्था को चुस्त-दुरुस्त करने का आदेश प्राचार्य कुमारी पूनम को दिया। छात्राओं ने निरीक्षण के दौरान बताया कि उन्हें पानी-बिजली की समस्या झेलनी पड़ती है। बाथरूम की सफाई नहीं होती है। सुरक्षा पर्याप्त नहीं है। छत पर जल जमाव होने के कारण कई जगहों से पानी रिसने, छत पर टूटी टंकी रखी होने, दो वाटर कूलर खराब रहने समेत अन्य समस्याएं सामने आयीं। सिविल सर्जन ने कहा कि निरीक्षण रिपोर्ट विभाग को सौंपी जाएगी। चालू वित्तीय वर्ष में इस स्कूल और छात्रावास की व्यवस्था में सुधार किया जाएगा। निरीक्षण के दौरान कार्यकारी अधीक्षक डॉ. मणि दीपा मजुमदार, अस्पताल प्रबंधक . मो. शब्बीर खान व अन्य थे।

---

- सुरक्षा व्यवस्था समाप्त, होम्योपैथिक इकाई शिफ्ट होगी

एसजीजीएस सदर अस्पताल के प्रभारी अधीक्षक सह सिविल सर्जन डॉ. राजकिशोर चौधरी ने बताया कि अस्पताल की सुरक्षा में कई बार खामियां पाए जाने के कारण एजेंसी की सेवा समाप्त कर दी गयी है। इसकी जगह सेवा के रिटायर कर्मियों को अस्पताल की सुरक्षा में तैनात किया जाएगा। उन्होंने बताया कि सदर अस्पताल का दर्जा मिलने के बाद यहां कई और सुविधाएं बढ़ाई जा रही हैं। इस कारण दूसरी मंजिल पर चल रही होम्योपैथिक इकाई को अन्य जगह पर शिफ्ट किया जाएगा। अस्पताल में वर्षों से बंद पड़े दंत, नेत्र, हड्डी समेत अन्य विभागों में डॉक्टरों की तैनात कर इसे चालू किया जाएगा।

---

- शिफ्ट हुई इमरजेंसी और गायनी वार्ड

सिविल सर्जन की मौजूदगी में योजना के मुताबिक सदर अस्पताल की इमरजेंसी को गेट के ठीक सामने वाले कमरों में शिफ्ट कर दिया गया है। यहां 19 बेड की इमरजेंसी विकसित की गयी है। यहां पहले से चल रहे गायनी वार्ड को पहले चल रही इमरजेंसी वाले कमरों में शिफ्ट किया गया है। कार्यकारी अधीक्षक ने बताया कि अधीक्षक कार्यालय की ओर चल रहे गायनी ओपीडी को गायनी वार्ड की ओर शिफ्ट किया जाएगा। कई और बदलाव किए जा रहे हैं। सिविल सर्जन एवं अनुमंडल प्रशासन की मौजूदगी में सोमवार को अस्पताल के पुराने सामानों की निलामी की गयी। अस्पताल के पुराने उपकरण, टूटी कुर्सी-टेबल व अन्य रद्दी 1,30,300 रुपये का निलाम कर राशि अस्पताल के खाते में जमा की गयी।

Categories: Bihar News

ओवरलोडेड जीप सड़क पर पलटी, महिला की मौत, 18 जख्मी

Dainik Jagran - 17 hours 58 min ago

पटना मसौढ़ी। दतमई रोड स्थित थाना के जगपुरा कॉलोनी पुल के पास सोमवार की दोपहर यात्रियों से भरी एक ओवरलोडेड जीप असंतुलित होकर सड़क पर पलट गई। इससे जीप पर सवार 45 वर्षीया एक महिला की मौत मौके पर ही हो गई। चालक जीप छोड़कर मौके से फरार हो गया।

मुआवजे की माग को लेकर ग्रामीणों ने कुछ देर के लिए सड़क जाम कर दिया। बाद में वहां पहुंची पुलिस ने लोगों को समझा-बुझाकर शांत कराया और जाम हटवाया। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए अस्पताल भेजा। जीप को कब्जे में लेकर पुलिस फरार ड्राइवर की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है।

मिली जानकारी के मुताबिक सोमवार की दोपहर मसौढ़ी से यात्रियों को लेकर एक ओवरलोडेड जीप कादिरगंज थाना के दतमई जा रही थी। इसी दौरान जगपुरा कॉलोनी पुल के पास जीप असंतुलित होकर सड़क पर ही पलट गई। इससे जीप पर सवार कादिरगंज थाना के नेतौल कोयरी टोला ग्रामवासी नन्हक मिस्त्री की पत्नी उषा देवी की जीप से दब जाने के कारण मौके पर ही मौत हो गई। उषा देवी अपने 16 वर्षीय पुत्र तपेश्वर कुमार का मसौढ़ी स्थित एक निजी क्लीनिक में उपचार कराकर जीप से अपने घर लौट रही थी। इस दुर्घटना में डेढ़ दर्जन से अधिक यात्री घायल हो गए। पास के खेतों में काम कर रहे ग्रामीणों ने घायलों को नजदीक के अस्पताल में भर्ती कराया। इनमें कादिरगंज थाना के दतमई ग्रामवासी दुखन बिंद(28), मसौढ़ी के मदसरवामद ग्रामवासी उदय प्रसाद(42), कादिरगंज थाना के बसौढ़ी ग्रामवासी अविनाश पासवान की पत्नी पिंकी देवी समेत अन्य लोग शामिल थे। घायल उदय प्रसाद को प्राथमिक उपचार के बाद पीएमसीएच भेज दिया गया। दुर्घटना के बाद चालक जीप छोड़कर वहा से गुजर रही एक बस में सवार होकर फरार हो गया।

Categories: Bihar News

जोड़ों के दर्द के लिए यहां दूर-दराज से आते हैं मरीज

Dainik Jagran - 18 hours 3 min ago

पटना। अगर आप जोड़ों के दर्द से परेशान हैं और बड़े-बड़े डॉक्टरों के चक्कर लगाकर थक चुके हैं तो एक बार कदमकुआं बुद्ध मूर्ति के पास स्थित राजकीय तिब्बी कॉलेज एवं अस्पताल में जरूर जाएं। आर्थराइटिस जैसे जटिल रोगों का इलाज कराने लोग यहां दूर-दराज से आ रहे हैं। औरंगाबाद, अरवल, जहानाबाद, लालगंज, छपरा, मसौढ़ी, रामगढ़ से भी मरीज पहुंच रहे हैं। रोज 400 से अधिक मरीज इलाज कराने आ रहे हैं, जिसमें लगभग 45 प्रतिशत मरीज स्थानीय होते हैं। सुबह 8 बजे से दोपहर 12:30 बजे तक मरीज अपना पंजीयन करा सकते हैं। पंजीयन कराने से इलाज कराने तक की व्यवस्था पूरी तरह से मुफ्त है। रविवार को ओपीडी बंद रहता है। यहां मरीज आर्थराइटिस, चर्म रोग, लकवा, पेट संबंधी रोग एवं गठिया जैसी बीमारी का इलाज कराने आते हैं। यूनानी पद्धति से होता है इलाज

यहां यूनानी पद्धति से इलाज किया जाता है। इस पद्धति द्वारा शरीर में जिस चीज की कमी होती है, उसे संतुलित किया जाता है। कफ, बलगम, पिला पित (सफरा), काला पित (सौदा) प्रधानता के आधार पर रोग के लक्षणों का पता किया जाता है।

इन मशीनों का होता है इस्तेमाल

इलाज के लिए ऑटोमेटिक ट्रैक्शन मशीन, मसल इस्टूमेलेटर, अल्ट्रासोनोग्राफी, इंफ्रारेड, नी एक्सरसाइज, फ्रोजेन लैडर और शॉर्ट वेब थेरेमी जैसी मशीनों का इस्तेमाल होता है।

कई उपकरणों की हालत खराब

अस्पताल में मरीजों की संख्या के हिसाब से इलाज के लिए जरूरी उपकरण कम पड़ते हैं। चिकित्सकों का कहना है कि इलाज के लिए कई जरूरी उपकरण यहां उपलब्ध ही नहीं हैं। दूसरी तरफ उपलब्ध उपकरणों में से भी कई खराब पड़े हैं। कोट

जड़ी-बूटी द्वारा निर्मित औषधियों से यूनानी पद्धति द्वारा मरीजों का इलाज किया जाता है। रोज 400 से अधिक मरीज इलाज कराने आते हैं। आर्थराइटिस के मरीजों को विभिन्न मशीनों से एक्सरसाइज भी कराई जाती है।

- डॉ. मो. अमीरूद्दीन अंसारी

अधीक्षक, राजकीय तिब्बी कॉलेज अस्पताल, पटना कोट

बदलते लाइफ स्टाइल की वजह से आज हम कई तरह के बीमारियों के शिकार हो रहे हैं। घुटने का दर्द, कमर दर्द ये सब तो आम बात हो गई है। स्वस्थ्य रहने के लिए हमें अपने लाइफ स्टाइल को दुरुस्त करना होगा।

- डॉ. मुजफ्फर उल इस्लाम

विभागाध्यक्ष, रेजिमेंटल थेरेपी कोट

ठेहुना, कमर और घुटनों में दो सालों से दर्द है। साल भर तक अंग्रेजी दवा खाई। जबतक दवा खाते रहे, तब तक आराम रहा। दवा छोड़ देने के बाद दर्द शुरू हो गया। यहां एक महीने से इलाज करवा रहा हूं। यहां पर कई तरह की एक्सरसाइज करने से दर्द बहुत कम रहता है।

जवाहर प्रसाद, राजेंद्रनगर, पटना घुटने और कंधे के दर्द से लगभग डेढ़ साल से परेशान हूं। कई जगह इलाज भी करवाया, पर कोई विशेष आराम नहीं मिला। यहां पर एक महीने से इलाज करवा रही हूं। अब उतना दर्द नहीं है जितना पहले होता था।

शाहिना परवीन, भिखना पहाड़ी, पटना पांच सालों से कमर और रीढ़ की हड्डी में दर्द है। जब दर्द होता था तो मेडिकल की दुकान से दवा लेकर खा लेते थे। कई डॉक्टरों से मैने दिखाया पर उनका इलाज कारगर साबित नहीं हुआ। यहां मेरा ट्रैक्शन ट्रीटमेंट चल रहा है। यहां के ट्रीटमेंट से आराम मिलने लगा है।

- रवि घोषाल, आलमगंज, पटना चार वर्ष पहले शरीर के दाएं हिस्से में पैरालिसिस हो गया था। गया में आयुर्वेदिक इलाज से ही मैं ठीक हो गया। बांह में दर्द रह गया था। इसका इलाज यहां से करा रहा हूं। पहले से दर्द बहुत कम रहता है।

- विनय सिंह, नालंदा, बिहार

Categories: Bihar News

राष्ट्र निर्माण के लिए आगे आएं हुनरमंद युवा : राज्यपाल

Dainik Jagran - 18 hours 6 min ago

पटना। बिहार के युवाओं में प्रतिभा की कोई कमी नहीं है। उन्हें हुनरमंद बनने की जरूरत है। कौशलयुक्त युवा राष्ट्र निर्माण के लिए आगे आएं। ये बातें राज्यपाल लालजी टंडन ने सोमवार को ज्ञान भवन में आयोजित तीन दिवसीय विश्व युवा कौशल महोत्सव-2019 के समापन समारोह में बतौर मुख्य अतिथि कहीं।

राज्यपाल ने कहा कि गरीबों को 'सर्वहारा' मानने वाली राजनीति के दिन अब लद गये। गरीब और अभिवंचित हुनरमंद अपनी प्रतिभा के बूते आर्थिक रूप से सशक्त होकर समाज में भरपूर सम्मान प्राप्त कर रहे हैं। राज्यपाल ने युवाओं से खुद स्वावलंबी होने का आह्वान किया और कहा कि सरकारी क्षेत्र में नौकरी की सीमा है। ज्ञान-विज्ञान के कई ऐसे प्रक्षेत्र हैं, जहां कौशल विकास के जरिये युवा उत्कृष्ट कार्य क्षमता का प्रदर्शन करते हुए राष्ट्र निर्माण में योगदान दे सकते हैं और खुद को स्वावलंबी बनाते हुए आर्थिक निर्भर बन सकते हैं। आधुनिक समय तालीम और हुनर का युग है। कौशलयुक्त युवाओं के बल पर ही नये भारत का निर्माण संभव है। कंप्यूटर प्रशिक्षण, संवाद कौशल एवं व्यवहार कौशल आदि के जरिये समेकित कौशल विकास करते हुए युवा आवश्यकता आधारित रोजगार की ओर उन्मुख हो सकते हैं।

प्राचीन भारत में हुनर का था सम्मान

उन्होंने कहा कि प्राचीन भारत की सामाजिक-सास्कृतिक व्यवस्था में सबको अपनी हुनरमंदी के प्रदर्शन का पूरा अवसर उपलब्ध था तथा सबको सम्मान की दृष्टि से देखा जाता था। उन्होंने कहा कि भारतीय समाज में एक कहावत प्रचलित है 'उत्तम खेती मध्यम बान।' अर्थात् कृषि को भारतीय सामाजिक व्यवस्था में अर्थोपार्जन का सबसे उत्कृष्ट जरिया माना गया था, फिर उसके बाद 'बान' यानी व्यवसाय को ज्यादा लाभकारी माना गया है। नौकरी-चाकरी को पहले अच्छा नहीं माना जाता था और इसे स्वाभिमान रक्षा के भी प्रतिकूल बताया जाता था। आज भी कृषि भारत में आर्थिक सशक्तीकरण का प्रमुख माध्यम बन सकता है। आज किसानों की हित-रक्षा के लिए केंद्र एवं राज्य सरकार दोनों काफी बेहतर प्रयास कर रही हैं। सरकार की योजनाओं का लाभ लें युवा

इस अवसर पर विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री जय कुमार सिंह ने कहा कि शिक्षा प्राप्ति के साथ-साथ हुनरमंद होना भी जरूरी है। युवाओं के कौशल-विकास हेतु सरकार प्रतिबद्ध है और इसके लिए विभिन्न विभागों के माध्यम से कई योजनाएं चलायी जा रही हैं। जबकि विकास आयुक्त डॉ. सुभाष शर्मा ने कहा कि युवाओं के कौशल विकास के लिए बिहार कौशल विकास मिशन निरंतर कार्यक्रम संचालित कर रहा है। युवाओं को शिक्षा हासिल करने साथ ही हुनरमंद होने के लिए आगे आना चाहिए। इससे पहले श्रम संसाधन विभाग के प्रधान सचिव दीपक कुमार सिंह ने अतिथियों का स्वागत किया और तीन दिवसीय महोत्सव की उपलब्धियों पर विस्तार से प्रकाश डाला। विभाग के निदेशक धर्मेद्र कुमार सिंह ने धन्यवाद ज्ञापन किया। इस अवसर पर राज्यपाल के प्रधान सचिव विवेक कुमार के अलावा विभाग विशेष सचिव के. सेंथिल कुमार और श्रमायुक्त गोपाल मीणा समेत अन्य अधिकारी मौजूद थे।

---------

कौशल विकास के लिए आगे आएं : श्रम संसाधन मंत्री

श्रम संसाधन मंत्री विजय कुमार सिन्हा ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा सभी जिलों में प्रखंड स्तर तक कौशल विकास कार्यक्रम संचालित किया जा रहा है। हमारे युवा कौशल विकास का प्रशिक्षण के लिए आगे आएं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार युवाओं को प्रशिक्षण देकर रोजगार का अवसर दिलाने में प्राथमिकता दे रही है। उन्होंने कहा कि इस महोत्सव में कई औद्योगिक शिक्षण एवं प्रशिक्षण संस्थानों आदि के सहयोग से विभाग ने युवाओं के कौशल विकास के लिए विशेषज्ञों को बुलाकर समुचित मार्गदर्शन कराया है।

----------

इन अफसरों को किया गया सम्मानित

राज्यपाल द्वारा कौशल विकास कार्यक्रम में बेहतर योगदान करनेवाले कृषि विभाग के प्रधान सचिव सुधीर कुमार, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग की प्रधान सचिव हरजोत कौर, सूचना एवं प्रौद्योगिकी विभाग के सचिव राहुल सिंह, ग्रामीण विकास विभाग के सचिव अरविंद चौधरी, बिहार राज्य महिला विकास निगम की प्रबंध निदेशक डॉ. एन. विजयलक्ष्मी को सम्मानित किया। इसके अलावा बक्सर, अरवल, सिवान, सारण और नालंदा के जिलाधिकारी को भी पुरस्कृत किया गया। कार्यक्रम में स्वास्थ्य विभाग, नगर विकास विभाग, समाज कल्याण विभाग, गृह विभाग, 'जीविका परियोजना' के अफसरों एवं भागलपुर के कुशल युवा केंद्र क्रियेशंस ट्रेनिंग की निदेशक मेघा झुनझुनवाला समेत कई अन्य औद्योगिक संस्थाओं के पदाधिकारियों तथा उद्यमियों को पुरस्कृत किया गया।

------------

Categories: Bihar News

व्यावसायिक कार्यो के लिए गांधी मैदान की बुकिंग एक से होगी बंद

Dainik Jagran - July 15, 2019 - 9:51pm

पटना। व्यावसायिक कार्यो के लिए एक अगस्त से गांधी मैदान की बुकिंग बंद हो जाएगी। 13 अगस्त से स्वतंत्रता दिवस की समाप्ति तक गांधी मैदान पूर्णरूप से सुरक्षा घेरे में रहेगा। इस दौरान मॉर्निग वाक पर भी रोक रहेगी। बगैर सुरक्षा पास के किसी को गाधी मैदान में प्रवेश नहीं मिलेगा। 15 अगस्त को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार गांधी मैदान में झंडोत्तोलन करेंगे। स्वतंत्रता दिवस समारोह की तैयारियों के लिए जिलाधिकारी कुमार रवि ने समीक्षा की तथा कार्यो के लिए समय सीमा निर्धारित की।

स्वतंत्रता दिवस की परेड का रिहर्सल एक अगस्त से प्रारंभ होगा। अंतिम रिहर्सल 13 अगस्त को होगा। गांधी मैदान गेट और उसके चारों तरफ सीसीटीवी कैमरे की व्यवस्था करने, गेट एक पर नियंत्रण कक्ष बनाने का निर्देश दिया। परेड प्रवेश द्वार को छोड़कर समारोह स्थल के सभी प्रवेश द्वारों पर डीएफएमडी व एचएचएमडी लगाने एवं प्रशिक्षित कर्मियों को प्रतिनियुक्त कर प्रवेश करने वाले दर्शकों के फ्रिस्किंग की व्यवस्था अपने स्तर से कराने का निर्देश दिया। जिलाधिकारी ने कहा, अपर पुलिस अधीक्षक अभियान, पटना पुलिस केंद्र से उपलब्ध कराए गए बम निरोधक दस्ते के साथ पुलिस अधीक्षक सुरक्षा विशेष शाखा, बिहार, पटना अपने स्तर से पूरे कार्यक्रम स्थल की जांच बम डिस्पोजल यूनिट एवं स्वान दस्ता द्वारा मुख्य समारोह से एक सप्ताह पूर्व से हीं कराना सुनिश्चित करेंगे। ध्वनि विस्तारक यंत्र की व्यवस्था के लिए 12 टावरों के निर्माण का निर्देश दिया। गांधी मैदान के गड्ढों व ऊबड़-खाबड़ पथ व परेड स्थल एवं अन्य स्थलों के समतलीकरण का कार्य शीघ्र प्रारंभ करने का निर्देश दिया। ---परेड में भाग लेने की मिली अनुमति---

स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर सीआरपीएफ, सीआइएसएफ, आइटीबीपी, एसएसबी, महिला एवं पुरुष, बिहार पुलिस, बीएमपी, होमगार्ड ग्रामीण व शहरी, एनडीआरएफ, एसडीआरएफ के साथ सैप डीएपी, फायर बिग्रड, एनसीसी करी तीनों विंग आर्मी, नेवी व एयर फोर्स तथा स्काउट्स-गाइड, स्वान दस्ते द्वारा परेड में भाग लेने पर अपनी सहमति दी है।

Categories: Bihar News

Guru Purnima: कल से टैक्‍स फ्री होगी सुपर 30, पटना में रियल लाइफ गुरु आनंद से मिलेंगे रितिक रोशन

Dainik Jagran - July 15, 2019 - 9:47pm

पटना [जेएनएन]। पटना के गणितज्ञ आनंद कुमार (Anand Kumar) के जीवन संघर्ष पर बनी फिल्म 'सुपर 30' (Super 30) गुरु पूर्णिमा (Guru Purnima) के दिन से बिहार में टैक्‍स फ्री हो रही है। इसके लिए आनंद ने मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) व उपमुख्‍यमंत्री सुशील मोदी (Sushil Modi) को धन्‍यवाद दिया है। गुरु पूर्णिमा के दिन ही फिल्‍म में आनंद का किरदार निभाने वाले अभिनेता रितिक रोशन (Hrithik Roshan) अपने रियल लाइफ किरदार से मिलने पटना आ रहे हैं। यह फिल्‍म बीते शुक्रवार से भारत सहित 71 देशों में धूम मचा रही है।

आनंद कुमार पटना में गरीब बच्‍चों की मेधा तराश कर उन्‍हें आइआइटी (IIT) में प्रवेश दिलाने की मुहिम चला रहे हैं। इसके लिए वे 'सुपर 30' नाम से कोचिंग संस्‍थान चलाते हैं। उनके प्रयासों से गरीब रिक्‍शा व चायवालों से लेकर मोची का काम करने व ताड़ी उतारने वालों तक के बच्‍चे आइआइटी में प्रवेश पा चुके हैं। फिल्‍म आनंद के जीवन व उनके इसी कोचिंग संस्‍थान को केंद्र में रखकर बनाई गई है।

गुरु पूर्णिमा के दिन मिलेंगे रील व रियल लाइफ आनंद कुमार

फिल्‍म 'सुपर 30' के नायक रितिक रोशन गुरु पूर्णिमा के दिन पटना आ रहे हैं। पटना में उस कोचिंग संस्‍थान 'सुपर 30' के संस्थापक आनंद कुमार का घर भी है, जिसे केंद्र में रखकर फिल्‍म बनाई गई है। इस तरह रील लाइफ के गुरु आनंद गुरु पूर्णिमा के दिन रियल लाइफ आनंद की कर्मभूमि में होंगे। गुरु पूर्णिमा के दिन रील व रियल लाइफ इन दोनों गुरुओं की मुलाकात भी होगी।

टैक्‍स फ्री हुई 'सुपर 30', अानंद बोले- थैंक्‍यू सीएम नीतीश

खास बात यह भी है कि यह फिल्‍म गुरु पूर्णिमा के दिन से बिहार में टैक्‍स फ्री की जा रही है। इस संबंध में उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने बताया कि बिहार सरकार ने इस फिल्‍म को टैक्‍स फ्री करने का निर्णय किया है। यह निर्णय16 जुलाई, 2019 से पूरे बिहार में लागू हो जाएगा।

फिल्‍म को टैक्‍स फ्री किए जाने के फैसले पर प्रतिक्रिया देते हुए आनंद ने ट्वीट कर मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार व उपमुख्‍यमंत्री सुशील कुमार मोदी को धन्‍यवाद दिया। उन्‍होंने कहा कि इससे अधिक संख्‍या में लोग फिल्‍म देख सकेंंगे।

रिलीज के साथ बॉक्स ऑफिस पर धूम मचा रही फिल्‍म

फिल्‍म 'सुपर 30' रिलीज के साथ ही बॉक्स ऑफिस पर धूम मचा रही है। फिल्‍म अभी तक 50 करोड़ रुपये से अधिक का कारोबार कर चुकी है। आनंद कुमार का किरदार निभा रहे रितिक फिल्म को लेकर काफी उत्साहित हैं। विकास बहल के डायरेक्शन में बनी फिल्म में रितिक के साथ पंकज त्रिपाठी, मृणाल ठाकुर, आदित्य श्रीवास्तव, नंदिश सिंह अमित साध अभिनय करते दिखेंगे। फि़ल्म में पटना की संस्‍था 'किलकारी' के 25 बच्चों के साथ आनंद कुमार की कोचिंग के कुछ छात्रों ने भी अहम रोल निभाया है।

Categories: Bihar News

रूपसपुर और कंकड़बाग थाना क्षेत्रों में शुरू हुई बीट पुलिसिंग

Dainik Jagran - July 15, 2019 - 8:29pm

पटना। अपराध पर लगाम लगाने के लिए राजधानी पुलिस एक बार फिर चौकीदारी प्रथा को अमल में लाने की तैयारी कर रही है। बदलते परिवेश में इसे प्रथा को 'बीट पुलिसिंग' कहा जाता है। रूपसपुर और कंकड़बाग थाना क्षेत्रों में बीट पुलिसिंग की शुरुआत कर दी गई है। फिलहाल, इसे प्रयोग के तौर पर शुरू किया गया है। एसएसपी गरिमा मलिक ने बताया कि प्रयोग सफल रहा तो जिले के सभी थानों में यह व्यवस्था लागू की जाएगी।

चौकीदारी करेंगे क्विक मोबाइल के जवान

जैसे पहले एक चौकीदार को किसी टोले-मोहल्ले का जिम्मा सौंपा जाता था। वह उस इलाके के वाशिंदों से घुल-मिलकर रहता था। सबके घर की खबर रखता था। उसके घर पर कौन-कौन लोग आते हैं, वह क्या करता है? कोई आपराधिक प्रवृत्ति का व्यक्ति तो नहीं आता है? इस तरह की सूचनाएं संग्रहित करने के बाद थानाध्यक्ष को देता था। इससे वारदात के बाद आरोपितों की शिनाख्त में आसानी होती थी। वह रात में भी अपने क्षेत्र में पहरा देता था, जिससे चोरी की घटनाएं कम होती थीं। ठीक इसी तरह रूपसपुर व कंकड़बाग थानों में तैनात क्विक मोबाइल के जवानों को भी बीट मुहैया करा दिया गया है।

2005 में भी हुई थी बीट पुलिसिंग

मालूम हो कि वर्ष 2005 में बीट पुलिसिंग को पटना जिले में प्रभावी किया गया था। इसका सार्थक परिणाम पटना पुलिस को मिला। अपराधी या तो जेल गए या फिर शहर छोड़कर भाग निकले। समय बीतने के साथ व्यवस्था चरमराती चली गई और 2012 के बाद पूरी तरह ध्वस्त हो गई। इसके पीछे का कारण अधिकारियों ने बल की कमी बताया था। इसके बाद अपराध नियंत्रण के लिए कम्युनिटी पुलिसिंग, साइकिल गश्ती जैसे प्रयोग भी हुए थे, लेकिन वे सफल नहीं हो सके।

Categories: Bihar News

पटना जंक्शन से चलेगी एक और श्रावणी स्पेशल ट्रेन

Dainik Jagran - July 15, 2019 - 8:01pm

पटना। श्रावणी मेले की संभावित भीड़ से निपटने के लिए रेलवे की ओर से विशेष व्यवस्था की जा रही है। रेलवे ने देवघर जाने वाले श्रद्धालुओं की सुविधा के लिए एक और श्रावणी मेला स्पेशल ट्रेन के परिचालन का फैसला किया है। यह स्पेशल ट्रेन आसनसोल और पटना के बीच चलेगी। इसके पूर्व भी आधा दर्जन श्रावणी मेला स्पेशल ट्रेन चलाने की घोषणा हुई थी।

पूर्व-मध्य रेल के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी राजेश कुमार ने बताया कि गाड़ी सं. 03561/03562 आसनसोल-पटना-आसनसोल श्रावणी मेला स्पेशल (साप्ताहिक) ट्रेन, पटना जं. और आसनसोल के बीच 19 जुलाई से नौ अगस्त तक सप्ताह में एक दिन प्रत्येक शुक्रवार को चलेगी। वापसी में गाड़ी सं. 03561 आसनसोल-पटना जं. श्रावणी मेला स्पेशल ट्रेन 19 व 26 जुलाई तथा दो व नौ अगस्त (शुक्रवार) को आसनसोल से 16.50 बजे खुलकर 17.14 बजे चितरंजन, 18.05 बजे मधुपुर, 18.34 बजे जसीडीह, 19.25 बजे झाझा, 19.48 बजे जमुई, 19.58 बजे मननपुर, 20.08 बजे किउल, 20.16 बजे लखीसराय, 20.22 बजे मनकट्ठा, 20.34 बजे बड़हिया, 20.48 बजे हाथीदह, 21.02 बजे मोकामा, 21.20 बजे बाढ़, 21.38 बजे बख्तियारपुर, 21.50 बजे खुसरूपुर, 22.00 बजे फतुहा, 22.12 बजे पटना साहिब, 22.28 बजे राजेंद्र नगर रुकते हुए 22.55 बजे पटना जंक्शन पहुंचेगी। वापसी में उसी दिन गाड़ी सं. 03562 पटना जं.-आसनसोल श्रावणी मेला स्पेशल ट्रेन पटना जं. से 23.55 बजे खुलकर 00.03 बजे राजेंद्र नगर, 00.15 बजे पटना साहिब, 00.27 बजे फतुहा, 00.39 बजे खुसरूपुर, 00.55 बजे बख्तियारपुर, 01.10 बजे बाढ़,01.30 बजे मोकामा, 01.43 बजे हाथीदह, 02.00 बजे बड़हिया, 02.08 बजे मनकट्ठा,02.15 बजे लखीसराय, 02.28 बजे किउल, 02.47 बजे मननपुर, 03.00 बजे जमुई, 04.00बजे झाझा, 04.40 बजे जसीडीह, 05.25 बजे मधुपुर, 06.35 बजे चितरंजन रूकते हुये 07.40 बजे आसनसोल पहुंचेगी। इस गाड़ी में सामान्य श्रेणी के 05, स्लीपर क्लास के 13 एवं एसएलआर के दो कोच सहित कुल 20 कोच होंगे।

Categories: Bihar News

Pages

Subscribe to Bihar Chamber of Commerce & Industries aggregator - Bihar News

  Udhyog Mitra, Bihar   Trade Mark Registration   Bihar : Facts & Views   Trade Fair